मेगा मेमोरी मिरेकल के संबंन्ध में

मेगा मेमोरी मिरेकल, रायपुर एवं समाधान महाविद्यालय, बेमेतरा के संयुक्त तत्वाधान में भारत क विभिन्न संस्थानों में पिछले कई वर्षों से विद्यार्थियों एवं सरकारी व् गैर सरकारी कार्यालयों/प्रतिष्ठानो में कार्यरत अधिकारी/कर्मचारी क लिए निः शुल्क सेमिनार का आयोजन करती रही है| ज्ञात हो की मेगा मेमोरी मिरेकल क डायरेक्टर श्री अवधेश पटेल जी का मेमोरी सेमिनार समय समय पर दूरदर्शन एवं आकाशवाणी पर प्रसारित हो चूका है | २०० से अधिक संस्थानों ने इस सेमिनार का लाभ लिया है | आप सभी इस अवसर का भरपूर लाभ उठायें |

मेगा मेमोरी मिरेकल, जो सम्पूर्ण छत्तीसगढ़ राज्य में एकमात्र संस्था है जो याददास्त कैसे बढ़ाएं? भूलना भूल जाओगे, जल्दी याद कैसे करें? परीक्षा की तैयारी कैसे करें? इन विषयों पर प्रशिक्षण प्रदान करती है, व विगत कई वर्षों से यह संस्था विभिन्न विद्यालयों, महाविद्यालयों, शैक्षणिक व गैर शैक्षणिक संस्थाओं में निः शुल्क मेमोरी डेवलपमेंट सेमिनार का आयोजन करती आ रही है, जिसका लाभ हज़ारों विद्यार्थी एवं अन्य लोगों ने उठाया है |

सेमिनार एवं कार्यशाला का आयोजन हेतु संपर्क करें
ज्ञान भर्ती पब्लिक स्कूल, शिवाजी चौंक, संतोषी नगर, रायपुर (छ. ग.)
समाधान महाविद्यालय, समृद्धि विहार, बेमेतरा - (छ. ग.)
अधिक जानकारी हेतु संपर्क करें
8120777745, 9479129666,9826121666, 8966065689, 9669625007

  कृतज्ञ

आदरणीय अवधेश जी,
       आपके द्वारा दिए गए मेमोरी डेवलपमेंट तकनीक एवं योग, प्राणायाम का मुझे बहुंत लाभ हुआ है | आज मुझे लगता है की काश मुझे यह तकनीक कुछ सालों पहले मिल गई होती तो मई अब तक कई परीक्षाओं में सफलता प्राप्त कर चूका होता मैंने इस कक्षा में इस तकनीक का पूरा प्रयोग करके देखा की जो चीज याद करने के लिए मुझे बार बार रटना पड़ता था फिर भी मई वह भूल जाता था पर अब इस तकनीक से मै न सिर्फ उसे बड़े ही कम समय में याद कर लेता हूँ बल्कि कई दिनों बाद भी वह क्रम से याद रहता है |

       आपके द्वारा सिखाई गई सभी तकनीकों की अपनी विशेषता है| परन्तु मुझे पेग मेथड, लिंक एवं जर्नी तकनीक बहुंत अच्छे लगे| चीटिंग (लोकेशन) तकनीक का प्रयोग बहुंत ही आसान है, और उसका असर बहुंत ही ज्यादा है| पी. एम. एस. तकनीक के प्रयोग में मुझे थोड़ी परेशानी हुई किन्तु उम्मीद है की थोड़ा अभ्यास करके मै उससे भी लाभ प्राप्त करने लगूंगा नक़्शे (मैप) को याद करने की तकनीक में जब हमने अभ्यास किया था तो उसके बाद आज भी मुझे उन सभी नदियों क नाम याद है| जिन्हे मै कभी याद नहीं कर पता था|

       योग और प्राणायाम व्यक्ति के मस्तिष्क को एकाग्रसित करने क लिए अत्यंत आवश्यक है | अतः इस तकनीक क प्रयोग से पहले प्राणायाम और योग करना अतिआवश्यक है| जो की इस क्लास में कराइ जाती है| चूँकि यह तकनीक एकाग्रमा पर कार्य करती है जो की प्राणायाम से ही आ पाती है| अतः मै यही कहना चाहूंगा की इस मेमोरी डेवलपमेंट एवं योग प्राणायाम कक्षा से मुझे बहुंत लाभ हुआ है| जिसका मै आगे समुचित उपयोग करता रहूँगा|

माननीय मुख्य मंत्री डॉ. रमन सिंह से स्वर्ण पदक एवं प्रमाण पत्र ग्रहण करते हुए